धड़कन काशी हो जाती है,
जब साँसें प्यासी हो जाती है,
अँखियों में मदीना झलकता है,
जब रूह सन्यासी हो जाती है। ✍
‐ 8 months ago by hotsonu999

— 8 Likes —
SMS Length : 277