Bachpan Ki Dosti Shayari Quotes Images – Bachpan Ki Yaari Shayari

Please follow and like us:
Facebook
Twitter
PINTEREST
LINKEDIN

Bachpan Ki Dosti Shayari, Bachpan Ki Dosti quotes Images, Bachpan Ki Yaari Shayari, बचपन की दोस्ती शायरी, Childhood Friendship Shayari. बेस्ट बचपन की दोस्ती पर शायरी/बचपन की यारी शायरी और दोस्त दोनों ही ज़िंदगी का एक अहम हिस्सा होते हैं। बचपन के दोस्त जैसे दोस्त चाहकर भी कभी नहीं मिल पाते हैं। जबकि हम अपनी ज़िन्दगी में बहुत से लोगों से मिलते भी है और दोस्ती भी करते हैं, लेकिन जो बात बचपन वाली दोस्ती/ बचपन की दोस्ती में होती है वो उसमें नहीं होती। बचपन की वो प्यारी यादें, वो शरारतें जब हम एक-दूसरे से शेयर करते हैं, तो बचपना फिर से खेलने लगता है। उन यादों के साथ दोस्त ही नहीं, बल्कि बचपन भी वापस आ जाता है। इसीलिए बचपन के दोस्त दूर भले ही हो जाएं, लेकिन अलग नहीं हो पाते।

दोस्तों, इन्ही सब बातों को ध्यान में रखते हुए हम लेकर आये है कुछ बेस्ट बचपन की दोस्ती पर शायरी जो आपको आपके बचपन की दोस्ती और बचपन की यारी को ताजा कर देगी। जैसे बचपन वाली दोस्ती, पुराने दोस्त पर शायरी, बचपन पर शायरी, बचपन की यादें, बचपन की यारी, बचपन की दोस्ती, बचपन की दोस्ती स्टेटस, Bachpan Dosti Shayari 2 Line, Bachpan Ki Yaari Shayari, Dosti Shayari in Hindi, FriendShip Shayari In Hindi, Bachpan Ki Dosti Shayari, Bachpan Dosti Shayari, Bachpan Ki Dosti Par Shayari, Bachpan Ki Dosti quotes.

आशा करते है आपको लेख में प्रस्तुत की गई बचपन की दोस्ती पर शायरी आपको पसंद आए, आप इन्हे जरूर पड़े और अपने साथी/ दोस्तों के साथ Whatsapp या Facebook पर जरुर शेयर करे।

Bachpan Ki Yaari Shayari

Bachpan Ki Yaari Shayari

Bachpan Ki Yari
Dosti Aisi Honi Chahiye Ki,
Agar Kabhi Akele Nikal Jao,
To Logo Ke Man Me Sabal Aaye,
Ki Iska Sathi Kaha Reh Gaya.

बचपन की यारी
दोस्ती ऐसी होनी चाहिए की,
अगर कभी अकेले निकल जाओ,
तो लोगो के मन में सबाल आये,
की इसका साथी कहा रह गया।

Bachpan Ki Yaari Shayari

Kaha Gai Woh Bachpan Ki Yaari,
Jab Sari Duniya Matlabi Hua Karti Thi
Or Bas…Ek Dosti Hi Sachi Thi Hamari.

कहा गई वह बचपन कि यारी,
जब सारी दुनिया मतलबी हुआ करती थी,
और बस… एक दोस्ती ही सच्ची थी हमारी।

Bachpan Ki Yaari Shayari

Bachpan Ki Dosti Thi Bachpan Ka Pyar Tha,
Tu Bhul Gaya To Kya Tu Mere Bachpan Ka Yaar Tha.

बचपन की दोस्ती थी बचपन का प्यार था,
तू भूल गया तो क्या तू मेरे बचपन का यार था।

Hamare Liye Wahi Dost Sabse Khas Hota Hai बचपन की दोस्ती शायरी

Hamare Liye Wahi Dost Sabse Khas Hota Hai,
Jiske Bare Me Ghar Bale Bolte Hai,
Iske Sath Dauvara Dikha To Tange Tod Denge.

हमारे लिए वही दोस्त सबसे खास होता है,
जिसके बारे में घर बाले बोलते है,
इसके साथ दौवारा दिखा तो टांगे तोड़ देंगे।

Read More :- Bachpan Ke Wo Din – Bachpan Shayari – Childhood Shayari in Hindi

Bachpan Ki Dosti Par Shayari

Bachpan Ki Dosti Par Shayari

Dosti Aur Mohabbat Me Fark Bas Itna Hai,
Barso Baad Milne Pr Mohabbat Nazare Chura Leti Hai,
Aur Dost Seene Se Laga Lete Hai.

दोस्ती और मोहब्बत में फर्क बस इतना है,
बरसो बाद मिलने पर मोहब्बत नजर चुरा लेती है,
और दोस्त सीने से लगा लेते है।

Dosti To Bachpan Me Hua Karti Thi

Dosti To Bachpan Me Hua Karti Thi,
Na Dosti Ka Matlab Pata Tha,
Aur Na Matlabi Dosti Thi.

दोस्ती तो बचपन में हुआ करती थी,
न दोस्ती का मतलब पता था,
और न मतलबी दोस्ती थी।

Bachpan Ki Dosti Par Shayari

Rishton Me Pyar Rahe, Pyar Ka Ehsaas Rahe,
Chhoti Si Zindagi Lambi Ho Jaye,
Agar Aap Jaise Pyare Dost Ka Sath Rahe.

रिश्तों में प्यार रहे, प्यार का एहसास रहे,
छोटी सी ज़िन्दगी लम्बी हो जाये,
अगर आप जैसे प्यारे दोस्त का साथ रहे।

Kya Dosti Thi Bachpan Ki Hamari

Kya Dosti Thi Bachpan Ki Hamari,
Hume Maidaan Ka Kya Pata Laga Hum,
Apne Ghar Ka Pata Bhul Gaye.

क्या दोस्ती थी बचपन की हमारी,
हमें मैदान का क्या पता लगा हम,
अपने घर का पता भूल गए।

Bachpan Dosti Shayari 2 Line

Bachpan Dosti Shayari 2 Line

Bachpan Ki Dosti Aaj Ke Dosti Se Kuch,
Zyada Kimti Raha Karti Thi.

बचपन की दोस्ती आज के दोस्ती से कुछ,
ज्यादा कीमती रहा करती थी।

Bachpan Dosti Shayari 2 Line

Sacche Dost Hume Kabhi Girne Nahi Dete,
Na Kisi Ki Nazron Me, Na Kisi Ke Kadmo Mein.

सच्चे दोस्त हमे कभी गिरने नहीं देते,
ना किसी की नज़रों में, न किसी के क़दमों में…।

Bachpan Dosti Shayari 2 Line

Hajaro Dost Aaye Aur Hajaro Dost Gaye,
Lekin Wo Bachpan Baale Dost Aaj Bhi Yaad Hai.

हजारो दोस्त आये और हजारो दोस्त गए,
लेकिन वो बचपन वाले दोस्त आज भी याद है।

Bachpan Dosti Shayari 2 Line

Chalo Aaj Fir Usi Bachpan Me Laut Chale,
Baithe Fir Se Usi Bude Pipal Ki Chhav Tale.

चलो आज फिर उसी बचपन में लौट चले,
बैठे फिर से उसी बूढ़े पीपल की छाँव तले।

Bachpan Ki Dosti Shayari

Wada Hai Teri Dosti Khas Rahegi

Wada Hai Teri Dosti Khas Rahegi,
Yaadon Ki Jhalak Dil Ke Paas Rahegi,
Nahi Bhulenge Aapko Aur Aapki Dosti Ko,
Jab Tak Jism Me Jaan Rahegi.

वादा है तेरी दोस्ती खास रहेगी,
यादों की झलक दिल के पास रहेगी,
नहीं भूलेंगे आपको और आपकी दोस्ती को,
जब तक जिस्म में जान रहेगी

Bachpan Ki Dosti Shayari

Bachpan Me Mere Doston Ke Paas Ghadi Nahi Thi,
Par Samy Sabke Paas Tha!
Aaj Sabke Paas Ghadi Hai,
Par Samy Kisi Ke Paas Nahi.

बचपन में मेरे दोस्तों के पास घड़ी नहीं थी,
पर समय सबके पास था!
आज सबके पास घड़ी है,
पर समय किसी के पास नहीं।

Bachpan Ki Dosti Shayari

Bas Sath Chalte Raho Ye Dost,
Kuch Pal Ki Nahi Yeh Dosti
Hume Umar Bhar Chahiye.

बस साथ चलते रहो ऐ दोस्त,
कुछ पल की नहीं यह दोस्ती
हमें उम्र भर चाहिए।

Bachpan Ki Dosti Shayari

Apni Dosti Ka Bas Itna Sa Usool Hai,
Jab Tu Kubul Hai To Tera Sab Kuch Kubul Hain.

अपनी दोस्ती का बस इतना सा उसूल है…
जब तू कुबूल है तो तेरा सब कुछ कुबूल है।

Bachpan Ki Dosti Quotes Images

Bachpan Ki Dosti Quotes Images

Kitane Khubsoorat Hua Karte The
Bachpan Ke Wo Din
Sirf Do Ungaliyaan Judane Se
Dosti Phir Se Shuru Ho Jaayaa Kartii Thi

कितने खुबसूरत हुआ करते थे
बचपन के वो दिन
सिर्फ दो उंगलिया जुड़ने से
दोस्ती फिर से शुरु हो जाया करती थी

Dosti Me Bas Yaar Hota Hai...

Dosti Me Na Koi Vaar, Na Koi Din Hota Hai,
Ye To Ehsaas Hai, Jisme Bas Yaar Hota Hai…

दोस्ती में ना कोई वार, ना कोई दिन होता है,
ये तो एहसास है, जिसमें बस यार होता है…!!!

Tum Jaisa Dost Hamare Paas Hai

Lakire To Hamari Bhi Khas Hai,
Tabhi To Tum Jaisa Dost Hamare Paas Hai.

लकीरें तो हमारी भी बहुत ख़ास है,
तभी तो तुम जैसा दोस्त हमारे पास है…!

Please follow and like us:
Facebook
Twitter
PINTEREST
LINKEDIN

Leave a Comment