सच है ख्वाहिशों की कोई हद्द नही होती मेरी ही ख्वाहिशों को देखो . . .

तुम तुम और बस तुम . . .
‐ 1 year ago by hotsonu999

— 248 Likes —
SMS Length : 223